CNT ACT | CHOTANAGPUR TENANCY ACT, 1908

CNT ACT | CHOTANAGPUR TENANCY ACT, 1908

CNT ACT ( CHOTANAGPUR TENANCY ACT, 1908 ), It extends to North Chotanagpur and South Chotanagpur divisions, and areas in which a notified area committee is constituted under the Bihar, Odisha Municipal Corporation Act, 1922 or within a cantonment.

Jharkhand Current Affairs in Hindi 2021

Maps of Jharkhand Rivers, Climate, Water-fall, Industry, etc.

Polity of Jharkhand in Hindi

Role of Jharkhand in freedom movement MCQ

Tribes of Jharkhand Complete MCQ

SOLVE JPSC TEST SERIES

छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम, 1908

छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम,  1908

अध्याय  महत्वपूर्ण तथ्यधाराएं
अध्याय = 1संक्षिप्त नाम तथा प्रसार1 –  3
अध्याय = 2काश्तकारों के वर्ग4 – 8
अध्याय = 3भूधारक9 – 15
अध्याय = 4 रैयत16 – 36
अध्याय = 5खूंटकट्टी अधिकार प्राप्त रैयत37
अध्याय = 6अन्धीभोगी रैयत38 – 42
अध्याय = 7अध्याय ( 4 तथा 6 ) से छूट प्राप्त भूमिया43
अध्याय = 8जोतो  या  भूधृतीयो के पट्टे और अंतरण 44 – 51
अध्याय = 9लगान के बारे में साधारण उपबंध52 – 63
अध्याय = 9  ( क )बंजर भूमि का बंदोबस्त63 ( क ), ( ख )
अध्याय = 10भूस्वामी तथा काश्तकारी के लिए प्रकीर्ण उपबंध64 – 75
अध्याय = 11  रूढ़ी और संविदा76 – 7 9
अध्याय = 12अधिकार अभिलेख और  लगानो का निर्धारण80 – 100 
अध्याय = 13भूमि संबंधी शर्तें एवं उनका रूपांतरण और अभिलेख101 – 117
अध्याय = 14भू स्वामियों की विशेषाधिकार –  युक्त भूमि का अभिलेख118 – 126
अध्याय = 15अधिकार अभिलेख तथा खूंटकट्टी अधिकार वाले रैयत, ग्राम मुखिया तथा अभीधारियों के अन्य वर्गों की  बाध्यता127 – 134
अध्याय = 16उपायुक्त द्वारा संज्ञय विषयों की न्यायिक प्रक्रिया135 – 229
अध्याय = 17परिसीमा230 – 238 
अध्याय = 18मुंडारी-खूंट कट्टीदारो के विषय में विशेष उपबंध239 – 256
अध्याय = 19अनुपूरक उपबंध257 – 271

कुल 19 अध्याय और 271 धाराएं हैं

Miscellaneous MCQ also available in English

1.किस धारा के अंतर्गत उपायुक्त द्वारा पारित आदेश के निष्पादन के अगले 3 वर्ष तक किसी भी आवेदन को लिया जाएगा का प्रावधान है

  1.  धारा 181
  2.  धारा 180
  3.  धारा 189
  4.  धारा 190 

2. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत उपायुक्त द्वारा संज्ञय विषयों की न्यायिक प्रक्रिया की जाएगी? 

  1. धारा 127  से 134
  2.  धारा 135 से 229
  3.  धारा 220 से 238
  4.  इनमें से कोई नहीं

3. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत उपायुक्त द्वारा पारित आदेश के निष्पादन को कुर्की और विक्रय से छूट प्राप्त होगी?

  1. धारा 181
  2.  धारा 182
  3.  धारा 184
  4.  धारा 186

4. धारा 186 के अंतर्गत कुर्की और विक्रय से छूट प्राप्ति के संदर्भ में कौन सा कथन सत्य है?

  1.  निजी सेवाओं का कोई अधिकार
  2.  लेखा बही
  3. श्रमिकों और घरेलू सेवकों की मजदूरी
  4.  भावी भरण पोषण का अधिकार
  5.  इनमें से सभी

5. रैयत को पट्टा देने के आदेश के बावजूद 3 महीने तक भूस्वामी के द्वारा पट्टा नहीं दिए जाने पर उपायुक्त अपने हस्ताक्षर से उसे पटा दे सकेगा यह किस धारा के अंतर्गत आता है

  1. धारा 175
  2.  धारा 177
  3.  धारा 179
  4.  धारा 181

CNT ACT in Jharkhand came into effect in 1908.

6. यदि किसी ऋण  व्यक्ति सिविल जेल से मुक्त कर दिया हो तो उसे आदेश के अधीन दूसरी बार कारारूद नहीं किया जाएगा किस धारा के अंतर्गत आता है 

  1. धारा 186
  2.  धारा 190
  3.  धारा 192
  4.  धारा 193

7. अधिनियम किस धारा के अंतर्गत उपायुक्त के कुछ आदेशों के विरुद्ध न्यायिक आयुक्त के पास अपील करने का निर्णय होगा का अधिकार है

  1.  धारा 215 एवं 216
  2.  धारा 220 एवं 221
  3.  धारा 220 एवं 222
  4.  धारा 225 एवं 226

8. न्यायिक आयुक्त द्वारा पारित किसी अपील डिग्री के विरुद्ध धारा 215 के अधीन अपील पर पारित किसी आदेश के विरुद्ध, विधि पर बल रखने वाली प्रथा के प्रतिकूल आदेश होने पर द्वितीय अपील की जा सकेगी या किस धारा के अंतर्गत आता है?

  1. धारा 222
  2.  धारा 223
  3.  धारा 224
  4.  धारा 225

9. धारा 212, के अंतर्गत यदि विक्री के पूर्व विधि पूर्वक अर्जित किसी हक के अधीन उसमें हित का दावा करता हो, विक्रय के तारीख से कितने दिनों की कालावधी के भीतर किसी भी समय उपायुक्त के न्यायालय में विक्रय को  अपास्त करने के लिए आवेदन कर सकता है?

  1. 45 दिन
  2.  60 दिन
  3.  75 दिन
  4.  90 दिन

psconlinenotes brings you cnt act jharkhand pdf.

10. किस धारा के अंतर्गत उपायुक्त के न्यायालय में वादों, का निपटारा, गवाही एवं प्रस्तुत करने की प्रक्रिया पर निर्णय का वर्णन है?

  1. धारा 141  से 176
  2.  धारा  140 से 165
  3.  धारा 142  से 177
  4.  इनमें से कोई नहीं 

Click the Button Below to View Answer. ( Pdf, Price = 50rs )

11. किस अधिनियम के अंतर्गत किसी अंधीभोगी  रैयत,  जिसको भूमि से बेदखल करने का आदेश दिया गया,  बेदखली के आदेश के पूर्व के उपजाए हुए फसल को काटने का हक रैयत को होगा यह किस धारा के अंतर्गत आता है?

  1. धारा 178
  2.  धारा 178 क
  3.  धारा 179
  4.  धारा 179 क

12. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत, उपायुक्त द्वारा किसी अंधीभोगी रैयत को   बेदखल ली या बकाया भुगतान न करने के लिए उसके पट्टे के  रददकरण कि सभी डिग्री में बकाए की रकम उस पर ब्याज एवं वाद का खर्च का भुगतान करने का निर्देश देता है ?

  1. धारा 178
  2. धारा 178 क
  3. धारा 179
  4. धारा 179 क

13. उपायुक्त किस धारा के अंतर्गत किसी वाद या अन्य कार्रवाई में अपने अधीनस्थ किसी पदाधिकारी से या कोई ऐसा व्यक्ति जिसे उपायुक्त ठीक समझे से विवाद ग्रस्त विषय के संबंध में स्थानीय जांच करवा सकता है?

  1. धारा 169
  2. धारा 170
  3. धारा 171
  4. धारा 172

14. कृषि भूमि से किसी कास्तकार को बेदखल करने, पट्टा को रद्द करने, से संबंधित सभी वादों का केवल उपायुक्त द्वारा संज्ञान लिया जाएगा या किस धारा के अंतर्गत है

  1.  धारा 138
  2.  धारा 139
  3.  धारा 140
  4.  धारा 141

15. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत एक ही ग्राम में भूमि धारण करने वाले अभी धारियों कि किसी भी संख्या द्वारा या उनके विरुद्ध कोई वाद या आवेदन सामूहिक रूप से उपायुक्त के पास किया जाएगा?

  1. धारा 138
  2. धारा 139
  3. धारा 140
  4. धारा 141

16. छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम अब तक कितने संशोधन किए जा चुके हैं

  1. 24
  2. 25
  3. 26
  4. 27

17. “स्थाई बंदोबस्त” 1798 वर्ष में बंगाल, बिहार और उड़ीसा के संबंध में किया गया स्थाई बंदोबस्त किस धारा में वर्णन किया गया है?

  1.  धारा 1
  2.  धारा 2
  3.  धारा 3
  4.  धारा 4

18. “स्थाई भूधृती”  के संदर्भ में कौन सा कथन सत्य है?

  1. वह भूमि  जो वंशागत है
  2.  वह भूमि जो सरकारी है
  3.  वह भूमि जो दान में दी गई हो
  4.  इनमें से कोई नहीं

19. “कोरकर भूमि” के संबंध में कौन  सा कथन सत्य है?

  1. वह भूमि जिसे धान की खेती के लिए चौरस किया गया हो
  2.  वह भूमि जो भूस्वामी से भिन्न किसी कृषक द्वारा बनाई गई हो
  3.  दोनों
  4.  इनमें से कोई नहीं

Tribes of Jharkhand 150 MCQ Practice Set 01, Practice Set 02, Practice Set 03 watch the video

Download the Pdf of Tribes in Jharkhand

20. निम्नलिखित कथनों में से कौन सा सत्य है

  1. भूधारक = ऐसा व्यक्ति जो अपनी जमीन यह किसी दूसरे की जमीन खेती कार्य के लिए धारण किए हुए हैं एवं  लगान चुकाता हो, ( धारा 5 )
  2. मुंडारी खूंटकट्टी दार =  वह मुंडारी जो जंगल भूमि के भागों को  जोत में लाने के लिए भूमि का धारण करने का अधिकार अर्जित किया हो, ( धारा 8 )
  3. पुनरग्रहां भूधृती = वैसा भूधृती जो परिवार के नर वारिस के नहीं होने पर, रैयत के निर्धन के बाद पुनः भूस्वामी को वापस हो जाए 
  4. सभी

21. काश्तकारों के वर्ग का वर्णन किस धारा में किया गया है?

  1.  धारा 1
  2.  धारा 2
  3.  धारा 3
  4.  धारा 4

DO SUBSCRIBE TO OUR YOUTUBE CHANNEL

22. किस प्रकार की भूमि भूस्वामी की विशेषाधिकार युक्त भूमि कहलाएगी  ( धारा 118 )?

  1. वैसी भूमि जो 1 वर्ष से अधिक अवधि के पट्टे पर अधारित हो जिसकी  जुताई मजदूरों, यह सेवकों द्वारा किया गया हो
  2. जो भूमि रांची या धनबाद जिलों को छोड़कर तथा सिंहभूम क्षेत्र के पटमदा, इचागढ़ तथा चांडिल क्षेत्र को छोड़कर छोटानागपुर प्रमंडल में जीरात के रूप में ज्ञात है
  3. वैसी भूमि जो छोटानागपुर भूधृती अधिनियम 1869 के अधीन तैयार किसी रजिस्टर में मांझीयस या बैठ खेता है
  4.  सभी

Jharkhand Practice set

23. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत राज्य सरकार की अधिसूचना द्वारा किसी राजस्व अधिकारी को विशेषाधिकार युक्त भूमि का सर्वेक्षण कर अभिलेख तैयार करने का निर्देश दे सकेगी का प्रावधान है?

  1. धारा 118
  2.  धारा 119
  3.  धारा 120
  4.  धारा 121

24. कोई भूमि भूस्वामी की विशेषाधिकार युक्त भूमि है या नहीं है इसका निर्णय  निम्नलिखित में से कौन करेगा? ( धारा 121 )

  1. राजस्व अधिकारी
  2. योजना अधिकारी
  3.  दोनों
  4.  इनमें से कोई नहीं

25. किस प्रकार की भूमि को किसी भूस्वामी के विशेषाधिकार युक्त भूमि के रूप में दर्ज नहीं किया जाएगा? ( धारा 124 )

  1. मांझीयस 
  2. बैठ खेता
  3. दोनों
  4.  इनमें से कोई नहीं

26.  सभी वाद्य दिए गए सभी आवेदन, जिसके लिए  इस अधिनियम में और कहीं परिसीमा की कोई कालावधी उपबंधित नहीं है, वाद हेतु  प्रोदभूत होने की तारीख से कितने वर्ष के भीतर क्रमाशा  संस्थित और दाखिल किए जाएंगे का प्रावधान है ( धारा 231 )

  1. 1 वर्ष
  2.  2 वर्ष
  3.  3 वर्ष
  4.  4 वर्ष 

27. अधिनियम की धारा 22 तथा 41 में वर्णित किसी आधार पर  अधिभोगी  रैयत या अंधीभोगी  रैयत की बेदखली के लिए वाद, दुरुपयोग की तारीख से कितने वर्ष के भीतर संस्थित किए जाएंगे का प्रावधान है ( धारा 233 )

  1. 1 वर्ष
  2.  2 वर्ष
  3.  3 वर्ष
  4.  4 वर्ष

28. ऐसी जोत या उसके किसी भाग का जिससे किसी अधिभोगी  रैयत को विधि विरुद्ध बेदखल कर दिया गया हो, कब्जा वापस पाने का आवेदन ऐसी बेदखली की तारीख से कितने वर्षों के भीतर अवश्य संस्थित कर दिया जाए का प्रावधान है? ( धारा 237 )

  1. 1 वर्ष
  2.  2 वर्ष
  3.  3 वर्ष
  4.  4 वर्ष

29. किसी भूस्वामी या भूस्वामी के अनुदेश पर कार्यालय  या कृषि भूमि धारण करने वाले किसी व्यक्ति के विरुद्ध अपने कार्यालय  या कृषि भूमि का कब्जा वापस पाने के लिए किसी ग्राम मुखिया द्वारा  वाद या आवेदन के कब्जा किए जाने की तारीख से कितने  वर्षों के भीतर अवश्य संस्थित किया जाना चाहिए का प्रावधान है? ( धारा 238 )

  1. 1 वर्ष
  2.  2 वर्ष
  3.  3 वर्ष
  4.  4 वर्ष 

30. अधिनियम में किस धारा के अंतर्गत संयुक्त भूस्वामी जब दो या दो से अधिक व्यक्ति संयुक्त  भूस्वामी हो तो कोई भी ऐसा कार्य, जिसे  भूस्वामी से करने की अपेक्षा की जाए तो यह संबंधित सभी पक्षों पर लागू होगा का प्रावधान है?

  1. धारा 255
  2.  धारा 256
  3.  धारा 257
  4.  धारा 258

31. राज्य सरकार इस अधिनियम के उद्देश्य की पूर्ति के लिए नियम बना सकेगी का प्रावधान किस धारा में निहित है?

  1. धारा 264
  2.  धारा 265
  3.  धारा 266
  4.  धारा 267

 32. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत किसी भूधारक के जमीन का लगान, जो स्थाई बंदोबस्त के समय से परिवर्तित नहीं हुआ हो तो उसमें कोई बुद्धि नहीं हो सकेगी का प्रावधान है?

  1. धारा 9
  2. धारा 10
  3. धारा 11
  4. धारा 12

33. जमीन रजिस्ट्री  की प्रक्रिया का वर्णन किस धारा के अंतर्गत किया गया है?

  1. धारा 9
  2.  धारा 10
  3.  धारा 11
  4.  धारा 12 

34. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत किसी रजिस्ट्रीकृत करार में भुगतान नकद लगान किसी वर्ष की प्रत्येक तिमाही में 4 समाज किस्तों में देय होगा का प्रावधान है

  1.  धारा 52
  2.  धारा 53
  3.  धारा 54
  4.  धारा 55 

 35. लगान का भुगतान माल कचहरी, ऐसे अन्य स्थान जहां भूमि का लगान का भुगतान हो, डाक मुद्रादेश  के द्वारा किया जा सकेगा का प्रावधान है?

  1.  धारा 52
  2.  धारा 53
  3.  धारा 54
  4.  धारा 55 

36. लगान  या उस पर दे ब्याज या दोनों के भुगतान करने पर एक रसीद भूस्वामी के द्वारा दिया जाएगा, रसीद नहीं देने पर उपायुक्त के यहां शिकायत की जा सकती है का प्रावधान किस धारा में है?

  1.  धारा 52
  2.  धारा 53
  3.  धारा 54
  4.  धारा 55 

37. धारा 58 लगान के संबंध में कौन सा कथन सत्य है?

  1.  किसी वर्ष में लगान का भुगतान नहीं होने पर प्रति वर्ष अधिक से अधिक 6.25% साधारण ब्याज लगेगा
  2.  लेकिन अगले किसी वर्ष में संपूर्ण लगान का भुगतान कर देने की स्थिति में ब्याज 3% से ज्यादा नहीं लगेगा
  3.  दोनों
  4.  इनमें से कोई नहीं

38. किस धारा के अंतर्गत लगान नहीं दिए जाने की स्थिति में भूत धारा का पट्टे रद्द करने का निर्णय किया जा सकता है?

  1. धारा 59
  2.  धारा 60
  3.  धारा 61
  4.  धारा 62

39. धारा 62 के संदर्भ में कौन सा कथन सत्य है?

  1.  किसी जोत का लगान रूपांतरित होने पर वहां लगान अगले 10 वर्ष तक नहीं बढ़ाया जाएगा या नहीं घटाया जाएगा
  2.  किसी जोत का लगान रूपांतरित होने पर वहां लगान अगले 15 वर्ष तक नहीं बढ़ाया जाएगा या नहीं घटाया जाएगा
  3.  किसी जोत का लगान रूपांतरित होने पर वहां लगान अगले 12 वर्ष तक नहीं बढ़ाया जाएगा या नहीं घटाया जाएगा
  4. इनमें से कोई नहीं 

40. धारा 63 के अंतर्गत,  उपायुक्त लगा  के देने के बाद भी भूस्वामी के द्वारा किसी कास्तकार को अतिरिक्त किसी भुगतान की शर्त रखने पर या भुगतान करवाने पर भूस्वामी को कितने महीने का कारावास का दंड  देने का प्रावधान है?

  1. 3 महीना या ₹500
  2.  6 महीना या ₹500
  3.  9 महीना या ₹500
  4.  12 महीना  या ₹500

Purchase the pdf of CNT + SPT in English price rs. 75 only.

41. छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम, 1908 के अंतर्गत बंजर भूमि का बंदोबस्त किस धारा के अंतर्गत नामित किया गया है

  1. धारा 63
  2. धारा 63 ( क ) एवं ( ख )
  3. धारा 64 ( क )
  4. धारा 64 ( ख )

42. बंजर भूमि  के बंदोबस्त के संदर्भ में कौन सा कथन सत्य है?

  1.  जिस भूमि पर बंदोबस्त की तारीख से 2 वर्षों तक खेती ना की गई हो एवं अन्य संक्रमण किया गया हो उसे पुनः बंदोबस्त करने के लिए उपायुक्त स्वतंत्र होगा 
  2.  जिस भूमि पर बंदोबस्त की तारीख से 3 वर्षों तक खेती ना की गई हो एवं अन्य संक्रमण किया गया हो उसे पुनः बंदोबस्त करने के लिए उपायुक्त स्वतंत्र होगा 
  3.  जिस भूमि पर बंदोबस्त की तारीख से 4 वर्षों तक खेती ना की गई हो एवं अन्य संक्रमण किया गया हो उसे पुनः बंदोबस्त करने के लिए उपायुक्त स्वतंत्र होगा 
  4.  जिस भूमि पर बंदोबस्त की तारीख से 5 वर्षों तक खेती ना की गई हो एवं अन्य संक्रमण किया गया हो उसे पुनः बंदोबस्त करने के लिए उपायुक्त स्वतंत्र होगा 

43. सीएनटी एक्ट, 1908 के किस अध्याय में “भूस्वामी तथा काश्तकारी के लिए प्रकीर्ण उपबंध” का प्रावधान है

  1. अध्याय 10
  2.  अध्याय 9
  3.  अध्याय 8
  4.  अध्याय 7

44. कोरकर भूमि के संबंध में कौन सा कथन सत्य है?

  1. वैसी भूमि जिसे धान की खेती के लिए चौरस किया गया हो एवं जो भूस्वामी से भिन्न किसी कृषक द्वारा बनाई गई हो को  कोरकर  भूमि कहते हैं
  2. किसी गांव के  कृषक या भूमिहीन श्रमिक कों उपायुक्त की आज्ञा से भूमि को कोरकर  भूमि में परिवर्तित करने का अधिकार है ( धारा 64 )
  3. किसी कृषक को किसी अन्य व्यक्ति के कब्जाअधीन किसी बगीचे या किसी भूमि या बांस भूमि को कोरकर भूमि में बदलने का अधिकार नहीं दिया जाएगा ( धारा 66 )
  4.  सभी 

45. बेदखली के संदर्भ में कौन सा कथन सत्य है? CNT ACT

  1. किसी भी काश्तकार को किसी डिक्रि  या उपायुक्त के आदेश के सिवा उसकी कार्यकारी से बेदखल नहीं किया जाएगा
  2. बेदखली का आदेश कृषि वर्ष के अंतर से और न्यायालय के अगले आदेशित तारीख तक प्रभावी होगी
  3. कोई काश्तकार बेदखल होने की स्थिति में बेदखली की तारीख से अगले 1 वर्ष तक उपायुक्त के सम्मुख आवेदन दे सकता है
  4.  सभी 

 46. रैयत  कपटपूर्ण तरीके से धारा 46 (   रैयत द्वारा अपने अधिकारों के अंतरण पर प्रतिबंध ), का उल्लंघन करते हुए कोई भूमि अंतरित करने की स्थिति में कितने वर्षों की सजा प्राप्त हो सकती है? ( धारा 71 ख )

  1. 2 वर्ष
  2.  3 वर्ष
  3.  4 वर्ष
  4.  5 वर्ष 

47. अगर कोई रैयत किसी पट्टे से आबाद ना हो तो कृषि वर्ष के अंत में उपायुक्त के लिखित मंजूरी से अपनी जोत को अभ्यर्पित ( Surrender ) कर सकेगा,  का प्रावधान किस धारा के अंतर्गत आता है?

  1. धारा 62
  2.  धारा 72
  3.  धारा 82
  4.  धारा 92

 48. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत भूमि की माप करने का अधिकार है

  1. धारा 45
  2.  धारा 55
  3.  धारा 65
  4.  धारा 75 

49. बिना राज्य सरकार के अधिसूचना के इस अधिनियम की कोई बात किसी घट वाली  अथवा  जोत की किसी प्रसंगति ( Context ) पर प्रभाव नहीं डालेगी, किस धारा के अंतर्गत आती है

  1. धारा 75
  2.  धारा 76
  3.  धारा 77
  4.  धारा 78 

50. राज्य सरकार किस धारा के अंतर्गत राजस्व अधिकारी द्वारा सर्वेक्षण करने का अधिकार देती है

  1.  धारा 80
  2.  धारा 90
  3.  धारा 100
  4.  इनमें से कोई नहीं

51. कौन राजस्व अधिकारी को भूस्वामी, काश्तकारों के बीच जल के उपयोग और   जल का  बहाव के विषय में मौजूद यह संभावित विवादों का हल निकालने के लिए निर्देश  देने का अधिकार प्राप्त है? ( धारा 82 )

  1. उच्च न्यायालय
  2.  राज्य सरकार
  3.  दोनों
  4.  इनमें से कोई नहीं 

52. राज्य सरकार द्वारा नामित कोई राजस्व अधिकारी, अधिकार अभिलेख ( Record of Rights ) के प्रारूप में की गई किसी  प्रविशिष्ट  या आदेश  को कितने दिनों के अंदर पुनरीक्षत करने का प्रावधान है? (  धारा 89 )

  1.  6 महीना
  2.  12 महीना
  3.  18 महीना
  4.  24 महीना 

53. अधिकार-अभिलेख ( Record of Rights ), अध्याय 12 के संदर्भ में कौन सा कथन सत्य है

  1. अधिकार अभिलेख का प्रारूप राजस्व अधिकारी  विहित  रीति से विहित कालावधी के लिए प्रकाशित करता है (  धारा 83 )
  2.  अधिकार अभिलेख बनाने की तैयारी और अंतिम प्रकाशन के 6 महीने तक कोई उपायुक्त  या सिविल न्यायालय किसी आवेदन को ग्रहण नहीं करेगा ( धारा 91 )
  3.  दोनों
  4.  इनमें से कोई नहीं

54. इस अधिनियम के प्रारंभ से और उसके बाद लगान मुक्ति व्यक्तिगत कार्य को छोड़कर किसी नई शर्त के साथ भूमि संबंधी व्यवसाय शुरू करने पर, नई भूमि संबंधी शर्त डाली जाएगी, किस धारा के अंतर्गत या प्रावधान किया गया है?

  1. धारा 100
  2.  धारा 101
  3.  धारा 102
  4.  धारा 103

55. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत तैयार अभिलेख की शुद्धता के संबंध में यह उसमें किसी गलत लोग के संबंध में कोई विवाद उठे, वहां अभिलेख के अंतिम प्रकाशन के प्रमाण-पत्र की तारीख से कितने महीनों के भीतर किसी भी समय राजस्व अधिकारी के समक्ष वाद किया जा सकेगा?

  1. 3 महीना
  2.  6 महीना
  3.  9 महीना
  4.  12 महीना

56. छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम,  का प्रसार क्षेत्र का वर्णन निम्नलिखित में से किन क्षेत्रों में से किया गया है

  1. उत्तरी छोटानागपुर और दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल
  2. वह क्षेत्र जिनमें बिहार, ओडिशा नगरपालिका अधिनियम, 1922 के अधीन कोई नगरपालिका या अधिसूचित क्षेत्र  समिति गठित हो अथवा जो किसी छावनी के भीतर पढ़ते  हो (  धारा 1 )
  3. दोनों
  4. इनमें से कोई नहीं

57. निम्नलिखित में से कौन सा कथन सत्य है?

  1.  रैयत =  ऐसा व्यक्ति जिसने खेती  करने के लिए भूमि धारण करने का अधिकार प्राप्त किया हो, इसमें मुंडारी खूंट कट्टीदार नहीं आते हैं ( धारा 6 )
  2. खूंटकट्टी अधिकारयुक्त रैयत = रैयत जिसे उस भूमि पर, जो ग्राम के मूल प्रवर्तक या उसकी नर परंपरा के वंशजों द्वारा जंगल में कृषि योग्य  बनाई गई है, का   अधिभोग हक रखता हो ( धारा 7 )
  3.  मुंडारी-खूंट कट्टदार =  वह मुंडारी जो जंगल भूमि के भागों को जोत में लाने के लिए भूमि का धारण करने का अधिकार अर्जित किया हो ( धारा 8 )
  4.  सभी

58. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत किसी जमीन की रजिस्ट्री होने पर भी  भूस्वामी उस पुन: ग्रहण जमीन को वापस ले सकेगा का प्रावधान है?

  1. धारा 12 
  2. धारा 13
  3.  धारा 14
  4.  धारा 15

 59. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत जमीन की रजिस्ट्री का वर्णन है?

  1. धारा 11
  2. धारा 12
  3.  धारा 13
  4.  धारा 14

60. किसी भूमि को बंदोबस्त रैयत  बनने के लिए उस भूमि को कितने वर्षों तक धारित करते रहना होगा ( धारा 18 )?

  1. 9 वर्ष
  2.  10 वर्ष
  3.  11 वर्ष
  4.  12 वर्ष

61. लगान का निर्धारण, जोत के बटवारा के बाद जमीन के लगान का निर्धारण, लगान वृद्धि या कमी का कारण, वृद्धि या कमी करने का  उपायुक्त का अधिकार आदि के बारे में किस धारा में जानकारी दी गई है ?

  1. धारा 22 से 28
  2.  धारा 24  से 36
  3.  धारा 26 से 34
  4.  धारा 28 से 32

62. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत खूंटकट्टी अधिकार प्राप्त रैयत का वर्णन किया गया है

  1.  धारा 35
  2.  धारा 36
  3.  धारा 37
  4.  धारा 38

63. अधिनियम के किस धारा के अंतर्गत अंधीभोगी और उसके भूस्वामी के बीच करार के आधार पर लगान  का दर तय किया जाएगा

  1.  धारा 35
  2.  धारा 36
  3.  धारा 37
  4.  धारा 38

64. धारा 41, अंधीभोगी रैयत की बेदखल किए जाने का आधार निम्नलिखित में से क्या निर्धारित किया गया है

  1. तीसरे कृषि वर्ष के प्रारंभ के बाद 90 दिनों के अंदर पिछले 2 वर्षों का लगा चुकाने में असफल रहने पर
  2.  अपने और अपने भूस्वामी के बीच की संविदा के निबंधों की किसी शर्तों को ना मानने पर
  3.  उचित लगान का भुगतान करने से सहमत ना होना 
  4. सभी

65. भूस्वामी की विशेषाधिकार  युक्त भूमि जब किसी अधिकारी द्वारा 1 वर्ष से अधिक वर्ष के लिए रजिस्ट्रीकृत पट्टे पर या 1 वर्ष या उससे कम अवधि के लिए लिखित या मौखिक पट्टे पर उपयुक्त भूमि पर लगाएं मुक्त रहेगा ( सरकार द्वारा सड़क, नहर, तटबंध, बांध के लिए )किस धारा के अंतर्गत है 

  1. धारा 43
  2. धारा 44
  3.  धारा 45
  4.  धारा 46

66. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत  भूस्वामी प्रत्येक दिए हुए पट्टे की शर्तों के अनुरूप एक प्रतिलेख पाने का हकदार होगा का प्रावधान है?

  1. धारा 43
  2. धारा 44
  3.  धारा 45
  4.  धारा 46

67. धारा 46,  रैयतो द्वारा अपने अधिकारों के अंतरन ( Transfer ) पर प्रतिबंध, के संदर्भ में कौन सा कथन सत्य है

  1.  किसी  अनुसूचित जनजाति का सदस्य अपनी भूमि को विक्रय, दान दूसरे अनुसूचित जाति के व्यक्ति को कर सकेगा जब वह व्यक्ति उसी पुलिस थाने के क्षेत्र की स्थानीय सीमाओं के भीतर का निवासी हो
  2. रैयत जो अनुसूचित जाति या पिछड़े वर्ग का सदस्य हो उपायुक्त की पूर्व मंजूरी से अपनी भूमि का विक्रय, दान ऐसे अन्य व्यक्ति को कर सकेगा जो अनुसूचित जाति व पिछड़े वर्गों का सदस्य हो जो उसी जिले के स्थानीय सीमाओं के भीतर का निवासी  हो
  3. रैयत जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति व पिछड़े वर्ग का सदस्य नहीं है अपनी जोत का विक्रय या दान किसी भी अन्य व्यक्ति को कर सकेगा
  4. सभी

68. किस अधिनियम में किस धारा के अंतर्गत न्यायालय आदेश के अधीन  रैयती अधिकार के विक्रय पर  प्रतिबंध है

  1. धारा 45
  2.  धारा 46
  3.  धारा 47
  4.  धारा 48

69. अधिनियम की किस धारा के अंतर्गत भूमि के अर्जन के बाद पर्याप्त भुगतान पाने के बाद भूस्वामी द्वारा अभीधारी को अंतरन की सूचना शामिल करने के बाद भूमि का अर्जन संभव होगा?

  1. धारा 51
  2.  धारा 52
  3.  धारा 53
  4.  धारा 54 

70. जब कोई रैयत अपनी वासभूमि को किसी दूसरे रैयत से धारित करें तो इसमें वासभूमि की स्थानीय प्रथा  और  रैयत द्वारा धारित भूमि पर इस अधिनियम के लागू होने योग्य उपबंध द्वारा विनियमन होगा किस धारा के अंतर्गत?

  1.  धारा 75
  2.  धारा 76
  3.  धारा 77
  4.  धारा 78 

71. किसी भूमि संबंधी व्यवसाय जिसके लिए पूर्व शर्त निर्धारित ना हो, उस पर वहां का स्थानीय लोग कानून लागू होगा किस धारा के अंतर्गत कहा गया है?

  1. धारा 101
  2.  धारा 102
  3.  धारा 103
  4.   धारा 104

72. किसी भूमि संबंधी शर्त के मूल्य का निर्धारण न्यायालय द्वारा करना अनिवार्य हो तो यह पिछले 10 वर्ष के या उससे कम समय के औसत मूल्य के बराबर माना जाएगा किस धारा के अंतर्गत?

  1.   धारा 101
  2.  धारा 102
  3.  धारा 103
  4.  धारा 104

73. किस धारा के अंतर्गत आयुक्त के आदेशों के विरुद्ध  न्यायिक  आयुक्त के यहां चलने वाले वादों की प्रक्रिया का वर्णन है?

  1. धारा  220 से 223
  2. धारा  221 से 223
  3. धारा  222 से 223
  4. धारा  223 से 225

74. राज्य सरकार इस अधिनियम के अधीन उन बातों के संबंध में जिनके लिए जिसके द्वारा कोई प्रक्रिया नहीं हो, उपायुक्त की प्रक्रिया के लिए नियम बना सकेगी का प्रावधान किस धारा के अंतर्गत है?

  1. धारा 264
  2. धारा 265
  3. धारा 266
  4. धारा 267

75. इस अधिनियम की कोई बात किसी विधि द्वारा परिभाषित बंदोबस्त पदाधिकारियों की शक्तियां और कर्तव्य जो इस अधिनियम द्वारा नीरसित नहीं हो को प्रभावित नहीं करेगी किस धारा के अंतर्गत आती है?

  1. धारा 269
  2. धारा 270
  3. धारा 271
  4. धारा 272

Total MCQ = 75 CNT + 50 SPT + Map of Jharkhand

Click to Purchase the Booklet

Santhal Pargana Tenancy Act

Follow us on Facebook

Rivers of Jharkhand

CNT ACT

Leave a Reply